क्या गल्फ न्यूज ने राहुल गांधी को ‘पप्पू’ कहा?

हेलो दोस्तो आज हम बात करेंगे सोसल मीडिया पर वायरल हो रहे एक अखबार की कटिंग की। जिसको लेकर दावा किया जा रहा है कि दुबई के एक अखबार गल्फ न्यूज़ ने राहुल गांधी को पप्पू कहा है। इस अखबार कटिंग को सोशल मीडिया पर खूब शेयर किया जा रहा है। ओर कहा जा रहा है कि राहुल गांधी को ना देश मे इज्जत मिलती है और ना ही विदेश में।
[ads]
अखबार की इस कटिंग में राहुल का एक स्केच था। और नीचे लिखा था pappu label अब हमें यह तो पता ही है कि राहुल गांधी के लिए भारतीय जनता पार्टी के नेता पप्पू शब्द का इस्तेमाल करते है।

संयुक्त अरब अमीरात और दुबई के अपने दौरे में राहुल गान्धी ने एक स्टेडियम में सार्वजनिक सभा कर दुबई में रह रहे एनआरआई लोगों से बात की थी। राहुल गान्धी ने वहां कई मुद्दों पर चर्चा की ओर वर्तमान मोदी सरकार की काफी आलोचना भी की। इस दौरे के खत्म हो जाने के बाद राहुल गान्धी ने गल्फ न्यूज़ को इंटरव्यू भी दिया।

यह तो थी पूरी घटना, अब हम जानेंगे की क्या सचमुच में गल्फ न्यूज़ ने राहुल गान्धी का अपमान किया है। पहले हम उस अखबार पर छपा हुआ पूरा टाइटल बता देते है। जो कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे अखबार की कटिंग में अधूरा है। अखबार में लिखा है कि How Pappu Label changed Rahul. इसका हिंदी में मतलब है। “पप्पू लेबल ने राहुल गांधी को कैसे बदल दिया”।
[ads2]
सोसल मीडिया पर वायरल होने के बाद गल्फ न्यूज़ की तरफ से कहा गया है कि इस अखबार में जो कार्टून छापा गया था, उस पर राहुल गांधी के हस्ताक्षर थे और उन्होंने ही इसे छापने की अनुमति दी थी। लेकिन अखबार की हैडिंग में पप्पू शब्द का इस्तेमाल क्यों किया गया?

अखबार के अनुसार राहुल गांधी से पप्पू लेबल के बारे में सवाल पूछा गया था। जिसका राहुल गांधी ने जवाब कुछ इस तरह दिया। “सबसे अच्छा गिफ्ट जो मुझे मिला वो है 2014. मैंने जितना भी 2014 से सीखा है, उतना अपने पूरे जीवन में किसी ओर चीज से नहीं सीखा। मेरी बुराई करने वाले लोग परिस्थितियों को मेरे लिए जितना मुश्किल बनाएंगे, मेरे लिए उतना ही मेरे लिए फायदेमंद होगा। जब वो मुझे पप्पू कहते हैं तो मैं उससे बिल्कुल भी परेशान नहीं होता हूँ। मैं अपने विरोधियों के हमलों का सम्मान करता हूँ और उससे ख़ुद में सुधार करता हूँ।”
Pappu
गल्फ न्यूज अखबार ने हैडिंग टाइटल में जो पप्पू शब्द इस्तेमाल किया, वो राहुल गांधी के बयान का ही हिस्सा था। Gulf news ने इस बारे में एक आर्टिकल लिखकर अपनी सफाई पेश की है ओर कहा है कि उन्होंने अपने इंटरव्यू की हैडिंग से राहुल गांधी का अपमान करने की बिल्कुल भी कोशिश नहीं की है। अखबार के हैडिंग की लाइन को राहुल गांधी की बेइज्जती से जोड़ना गलत है।